Breaking News
पालिका परिषद ने आरडब्ल्यूए के लिए लक्ष्मीबाई नगर बारात घर में जन सुविधा शिविर आयोजित किया  |  श्री भूपिंदर सिंह भल्ला नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के नए अध्यक्ष बने  |   ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्यों ने और मौलाना हसनअली राजाणी ने दिल्ली और चंडीगढ़ के नए चुनाव आयुक्त विजय देव को बधाई दी  |  डीएम ने जिला निबंधन एवम परामर्श केंद्र का किया औचक निरीक्षण   |  उपाध्यक्ष-पालिका परिषद ने विशेष रूप से निवासियों के लिए आयोजित, लक्ष्मीबाई नगर बारात घर पर एनडीएमसी के पहले "सुविधा शिविर" का दौरा किया  |  दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने पंजाबी भाषा प्रसार कमेटी का किया गठन  |  शिरोमणी अकाली दल दिल्ली इकाई एवं शिरोमणि गुरुद्वारा कमेटी सिख मिश्न दिल्ली द्वारा शकूर बस्ती की संगत को श्री दरबार साहिब के दर्शनों के लिए भेजा गया  |  पालिका परिषद के उपाध्यक्ष ने नए अध्यक्ष का स्वागत किया और महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
03/02/2022  :  12:04 HH:MM
40 स्कूल बंद कर रही भाजपा शासित नॉर्थ एमसीडी, कहा स्कूलों में बच्चे कम
Total View  226

‘आप’ एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा शासित नॉर्थ एमसीडी 40 स्कूल बंद कर रही है। इसका कारण उन्होंने दिया है कि स्कूलों में बच्चे कम हैं। जबकि खुद नॉर्थ एमसीडी का कहना है कि पिछले साल 2.9 लाख बच्चे थे और इस साल 3.03 लाख के आसपास बच्चे हैं। जब 13000 बच्चे बढ़े हैं तो भाजपा नए स्कूल बनाने की जगह 40 स्कूल बंद क्यों कर रही है। नॉर्थ एमसीडी ने पिछले साल 34 स्कूल बंद किए थे, तब भी बच्चे कम होने का कारण दिया था। हमें खबर मिली है कि जल्द ही भाजपा इन 40 स्कूलों को बेचने का प्रस्ताव रखने वाली है। दुर्गेश पाठक ने कहा कि एक तरफ अरविंद केजरीवाल के स्कूल हैं जो देश ही नहीं विदेशों में भी चर्चित हैं, वहीं एमसीडी अपने स्कूलों को बंद कर अपने नेताओं को बेचने की तैयारी में है।
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने बुधवार को एक डिजिटल प्रेस वार्ता को संबोधित किया। दुर्गेश पाठक ने कहा कि कोई भी देश कोई भी राष्ट्र तबतक आगे नहीं बढ़ सकता है जबतक वहां स्कूलों का अच्छा सिस्टम ना हो। आपने देखा होगा कि आम आदमी पार्टी ने एक काम किया है, जो दूसरों को असंभव लगता था कि ऐसा भी कभी हो सकता है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया के नेतृत्व में दिल्ली में शिक्षा का एक ऐसा सिस्टम बना, स्कूलों का एक ऐसा जाल बुना कि आज हिंदुस्तान में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी चर्चे हो रहे हैं कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के शिक्षा मॉडल को पूरी तरह बदल दिया है।

पंजाब में आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ने जा रही है, वहां के लोग भी कहते हैं कि आपने स्कूल बहुत अच्छे बनाए हैं। आप गोवा चले जाओ, वहां के लोग भी यही बात दोहराते हैं। इसी प्रकार से आप कहीं भी कैंपेन करने चले जाओ लोग यही कहते हैं कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के शिक्षा मॉडल को बहुत अच्छा कर दिया है। जब दिल्ली के लोग दिल्ली में शिक्षा सिस्टम में आए बदलाव पर इतना गर्व कर रहे हों, उनके लिए बड़ी हताश करने वाली बात होगी कि उसी दिल्ली में जो एमसीडी है, जिसके अंतर्गत बहुत सारे स्कूल आते हों, जहां बहुत ही गरीब परिवार के बच्चे पढ़ने जाते हों, बड़ी ही शर्म की बात है कि वह एमसीडी लगातार स्कूलों को बंद कर रही है।

कुछ दस्तावेज पेश करते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी ने अभी कुछ दिनों पहले दक्षिणी दिल्ली के स्कूल बंद किए थे। इसी तरह से अब वह उत्तरी दिल्ली के स्कूल बंद करने जा रहे हैं। पिछले साल इन्होंने नॉर्थ एमसीडी के 34 स्कूल बंद किए थे। वहीं इस साल 40 स्कूलों को बंद करने का प्रस्ताव लाया जा रहा है। जिसके दस्तावेज मेरे पास उपलब्ध हैं जिसमें सभी 40 स्कूलों की जानकारी लिखी हुई है। जब यह 40 स्कूल बंद हो जाएंगे, तो वहां पढ़ने वाले बच्चे कहां जाएंगे, यह तो एक बड़ा प्रश्न है ही, लेकिन महत्वपूर्ण बात यह है कि कुछ अखबारों के जरिए हमें पता चला कि एमसीडी के अधिकारियों का कहना है कि बच्चे कम हो गए हैं इसलिए स्कूल बंद कर रहे हैं। जबकि खुद नॉर्थ एमसीडी का कहना है कि पिछले साल उनके पास 2.90 लाख बच्चे थे और इस साल 3,03,000 लाख के आसपास बच्चे हैं। मतलब 13000 बच्चे एमसीडी में बढ़े हैं। इसके बावजूद 40 स्कूलों को बंद करने की नौबत क्यों आ रही है?

इसमें साफ गड़बड़ी नज़र आती है। अगर 13000 बच्चे एमसीडी के स्कूलों में बढ़े, तब तो और स्कूल खुलने चाहिए थे। फिर स्कूलों को बंद क्यों किया जा रहा है? भारतीय जनता पार्टी में हमारे कई लोग मौजूद हैं जो हमें सभी जरूरी जानकारी उपलब्ध कराते हैं। हाल ही में भाजपा पार्षदा ने ढ़लाव की ज़मीन पति को दे दी और ऊपर से यह कहा कि इसमें कुछ गलत नहीं है। यह खबर भी हमें वहीं से मिली। अब हमें यह खबर मिली है कि जो 40 स्कूल हैं, अगली बार भाजपा उन्हें बेचने का प्रस्ताव लेकर आने वाली है। भाजपा के नेता एनजीओ बनाकर उन स्कूलों की ज़मीन अपने नाम कर लेंगे। पहले ज़मीनों पर कब्जा किया, ओल्ड होम पर कब्जा किया, अस्पतालों पर कब्जा की, ढ़लाव की ज़मीन पर कब्जा किया और अब स्कूलों पर कब्जा करने का प्लान बना रहे हैं।

सभी को पता है कि दिल्ली में ज़मीन की बहुत समस्या है, लेकिन भाजपा ने यह नया तरीका निकाला है कि पहले स्कूल बंद करेंगे फिर उसकी इमारत को यह कहकर किसी एनजीओ को दे देंगे कि यह एनजीओ बहुत अच्छा है, यहां बहुत अच्छे काम होते हैं। असल में यह एनजीओ प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा के ही किसी नेता का होगा। एक तरीके से यह जो 40 स्कूल हैं, उनको बेचकर भाजपा के नेता इन ज़मीनों पर कब्जा करना चाहते हैं। मैं भाजपा के नेताओं से कहना चाहता हूं कि अब बहुत कम वक्त बचा है। आपके पास मुश्किल से 2-2.5 महीना बचा हुआ है। इस बार एमसीडी में आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी। इन सभी चीजों की जांच कराएंगे और सभी दोषी अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई कराएंगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7656969
 
     
Related Links :-
साहित्य अकादेमी का छह दिवसीय साहित्योत्सव 2022 सम्पन्न
भारतीय स्वतंत्रता संग्राम पर साहित्य का प्रभाव विषयक राष्ट्रीय संगोष्ठी का शुभारंभ
शाहदरा में नवनिर्मित पॉलीक्लिनिक का उद्घाटन, हजारों निवासियों को मिलेगी विशेष चिकित्सा सेवाएं- सत्येंद्र जैन
इस वेस्ट वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट के शुरू होने से उत्तरी दिल्ली और उसके आसपास रहने वाले करीब 23 लाख लोग लाभांवित होंगे- सत्येंद्र जैन
कंप्यूटर को ज्यादा सक्षम बनाने वाली सामग्री पर कार्य कर रहा बेंगलुरू का स्वर्णजयंती पुरस्कार विजेता
मन की बात की 85वीं कड़ी में प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ
रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने उम्मीदवारों/अभ्यर्थियों को रेलवे परीक्षा पर उनकी चिंताओं को दूर करने का आश्वासन दिया
भर्ती प्रक्रिया पर प्राय: पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू)
रेलवे ने एनटीपीसी सीबीटी-1 परिणाम को लेकर उम्मीदवारों की चिंताओं पर विचार करने के लिए उच्च अधिकार समिति का गठन किया
अनिश्चित माहौल में कर्मचारी नौकरी बदलने की फिराक में