Breaking News
पूरी दिल्ली समेत वार्ड 64 पीतमपुरा में भी चलाया गया पोल खोल अभियान  |  दिल्ली में जलजमाव रोकने के लिए युद्धस्तर पर तैयारी कर रही है केजरीवाल सरकार, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के साथ तैयारियों का जायजा लेने के लिए की समीक्षा बैठक  |  स्केटिंग क्लास के सचिव प्रदीप रावत की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार एसएमबी इंटर कॉलेज में स्केटिंग का स्पेशल समर कैम्प  |  केजरीवाल सरकार दिल्ली वालों को जल्द देगी 100 और मोहल्ला क्लीनिकों की सौगात, डिप्टी सीएम ने बैठक कर मोहल्ला क्लीनिकों को जल्द शुरू करने के दिए निर्देश  |  माननीय शिक्षा मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने 1 करोड़ ‘डिजिटल वर्क फोर्स’ तैयार करने के लिए ‘डिजिटल स्किलिंग’ प्रोग्राम की शुरुआत  |  मुंबई का सबसे बड़ा बीटूबी कपडे का फेयर २९ और ३० जून २०२२ को होटल सहारा स्टार में आयोजित होगा  |  केवाईएस ने सेंट स्टीफंस कॉलेज से आर्ट्स फैकल्टी तक स्टीफंस कॉलेज में दाखिले के इंटरव्यू लेने के भेदभावपूर्ण फैसले के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन!  |  हिन्दूराव अस्पताल में ज़म ज़म फाउन्डेशन ने शुरू किया वरिष्ठ नागरिक सेवा स्टॉल  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
29/01/2022  :  11:20 HH:MM
रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने उम्मीदवारों/अभ्यर्थियों को रेलवे परीक्षा पर उनकी चिंताओं को दूर करने का आश्वासन दिया
Total View  363

रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने डीडी न्यूज के साथ बातचीत में कहा, “हम उम्मीदवारों / अभ्यर्थियों के मुद्दों और शिकायतों पर अत्यंत संवेदनशीलता के साथ ध्यान देंगे। “आरआरबी केंद्रीकृत रोजगार सूचना (सीईएन) संख्या 01/2019 (गैर-तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियों के लिए – स्नातक और स्नातक के कम) के तहत चल रही भर्ती परीक्षा – जिसके परिणाम 14.01.2022 को घोषित किए गए हैं – के दूसरे चरण के लिए उम्मीदवारों की संक्षिप्त सूची बनाने की प्रक्रिया (शॉर्टलिस्टिंग) पर कुछ उम्मीदवारों द्वारा चिंता व्यक्त की गई है।

इस मुद्दे पर डीडी न्यूज से बात करते हुए श्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि मामले का संवेदनशीलता के साथ समाधान निकाला जाएगा। इन चिंताओं की जांच करने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों की एक उच्च-अधिकारप्राप्त समिति ने उम्मीदवारों / अभ्यर्थियों से अभ्यावेदन लेना शुरू कर दिया है। रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) के वरिष्ठ अधिकारी छात्रों के समूहों से मिल रहे हैं और उनका अभ्यावेदन प्राप्त कर रहे हैं। मंत्री ने उम्मीदवारों / छात्रों को आश्वासन दिया कि उनकी सभी समस्याओं का समाधान अत्यंत संवेदनशीलता के साथ किया जाएगा और उन्हें किसी की बातों से भ्रमित/प्रभावित होने की आवश्यकता नहीं है।

परीक्षा के दूसरे चरण के लिए चुने जाने वाले उम्मीदवारों की संख्या के मुद्दे को स्पष्ट करते हुए मंत्री ने कहा कि रेलवे की एक पुरानी कार्यप्रणाली के रूप में एनटीपीसी द्वितीय चरण परीक्षा के लिए बुलाए जाने वाले उम्मीदवारों की संख्या, स्वीकृत रिक्तियों की संख्या से केवल 10 गुनी ज्यादा रखी गयी थी। सीईएन 03/2015 के लिए उम्मीदवारों को बुलाए जाने की यह संख्या रिक्तियों की संख्या की 10 गुनी से बढ़ाकर 15 गुनी की गयी औए सीईएन 1/2019 के लिए यह संख्या रिक्तियों की संख्या की 20 गुनी कर दी गयी, ताकि अधिक से अधिक छात्रों को परीक्षा में शामिल होने का अवसर मिले।

श्री वैष्णव ने विस्तार से बताया कि “यदि आप प्रत्येक श्रेणी को देखें, तो प्रत्येक श्रेणी के लिए 20 गुना छात्रों/उम्मीदवारों का चयन किया गया है। मुद्दा यह है कि एक से ज्यादा श्रेणियों के लिए एक से ज्यादा उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। चूंकि दूसरे चरण में पांच अलग-अलग स्तरों के सीबीटी होते हैं और एक उम्मीदवार को पात्रता, योग्यता और विकल्प के आधार पर एक से अधिक स्तरों के लिए चुना (शॉर्टलिस्ट) जा सकता है, तो 7 लाख रोल नंबरों की सूचियों में कुछ नाम एक से अधिक सूची में दिखाई दे सकते हैं। मंत्री ने कहा कि इस मुद्दे को सुलझाया जा सकता है और सड़क पर विरोध करने या ट्रेन को आग लगाने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि रेलवे अवसंरचना सार्वजनिक संपत्ति है।

इस समस्या के समाधान के बारे में बात करते हुए श्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि उम्मीदवारों की चिंताओं / शिकायतों को देखने के लिए गठित उच्च स्तरीय समिति में, भर्ती प्रक्रिया में लम्बा अनुभव रखने वाले वरिष्ठ अधिकारियों को शामिल किया गया है। उन्होंने संबंधित छात्रों/उम्मीदवारों से अनुरोध किया कि वे तीन सप्ताह के भीतर यानी 16.02.2022 तक समिति को अपनी शिकायतें/चिंताएं प्रस्तुत करें और हम उसके तुरंत बाद समाधान लेकर आएंगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3337316
 
     
Related Links :-
साहित्य अकादेमी का छह दिवसीय साहित्योत्सव 2022 सम्पन्न
भारतीय स्वतंत्रता संग्राम पर साहित्य का प्रभाव विषयक राष्ट्रीय संगोष्ठी का शुभारंभ
शाहदरा में नवनिर्मित पॉलीक्लिनिक का उद्घाटन, हजारों निवासियों को मिलेगी विशेष चिकित्सा सेवाएं- सत्येंद्र जैन
इस वेस्ट वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट के शुरू होने से उत्तरी दिल्ली और उसके आसपास रहने वाले करीब 23 लाख लोग लाभांवित होंगे- सत्येंद्र जैन
40 स्कूल बंद कर रही भाजपा शासित नॉर्थ एमसीडी, कहा स्कूलों में बच्चे कम
कंप्यूटर को ज्यादा सक्षम बनाने वाली सामग्री पर कार्य कर रहा बेंगलुरू का स्वर्णजयंती पुरस्कार विजेता
मन की बात की 85वीं कड़ी में प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ
भर्ती प्रक्रिया पर प्राय: पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू)
रेलवे ने एनटीपीसी सीबीटी-1 परिणाम को लेकर उम्मीदवारों की चिंताओं पर विचार करने के लिए उच्च अधिकार समिति का गठन किया
अनिश्चित माहौल में कर्मचारी नौकरी बदलने की फिराक में